राष्ट्रीय युवा दिवस कि सभी को शुभकामनायें

National Youth Day

हर साल 12 जनवरी को भारत में पूरे जोश और उत्साह के साथ राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) मनाया जाता है। नेशनल यूथ डे (National Youth Day), साहित्य, दर्शन और इतिहास के प्रकांड विद्धान, महान विचारक, समाज सुधारक और आधुनिक भारत के निर्माता स्वामी विवेकानंद के जन्मदिन या फिर जयंती के रुप में मनाते हैं।

National Youth Day

राष्ट्रीय युवा दिवस – National Youth Day

देश के युवाओं के सही मार्गदर्शन के लिए हर साल भारत में युवा दिवस (Yuva Diwas) मनाया जाता है। क्या है राष्ट्रीय युवा दिवस का महत्व और इतिहास और इसे कब और क्यों मनाया जाता है, इन सभी के बारे में हम आपको अपने इस आर्टिकल में बताएंगे –

राष्ट्रीय युवा दिवस कब मनाया जाता है – When is National Youth Day

भारत में हर साल 12 जनवरी के दिन राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया (National Youth Day) जाता है। आपको बता दें कि 12 जनवरी 1863 को भारत भूमि पर हिन्दी साहित्य और इतिहास के प्रकांड विद्धान, महान समाज सुधारक, दार्शनिक और युग पुरुष स्वामी विवेकानंद का जन्म हुआ था, इसलिए उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस के रुप में मनाते हैं।

आपको बता दें कि उनके जन्मदिन को राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) के रुप में इसलिए मनाया जाता है क्योंकि उन्होंने अपने आध्यात्मिक चिंतन और दर्शन से न सिर्फ लोगों को प्रेरणा दी है बल्कि भारत को पूरे विश्व में गौरन्वित किया है।

स्वामी विवेकानंद जी के महान और गौरवशाली व्यक्तित्व ने न सिर्फ लोगों में अपनी एक अद्भुत छाप छोड़ी है, बल्कि स्वामी विवेकानंद जी का जीवन हर किसी के जीवन में नई ऊर्जा का संचार करता है और उन्हें आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है।

राष्ट्रीय युवा दिवस का इतिहास और इसका महत्व – National Youth Day History and Importance

12 जनवरी, स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस को भारत सरकार द्धारा साल 1984 में राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) के रुप में मनाए जाने का ऐलान किया गया था। इसलिए तब से लेकर अब तक हर साल पूरे देश में इस दिन को युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

आपको बता दें कि सबसे पहला राष्ट्रीय युवा दिवस साल 1985 में मनाया गया था। स्वामी विवेकानंद के दर्शन और उनके महान आदर्शों और विचारों की तरफ देश के सभी युवाओं को प्रेरित करने और उनमें आगे बढ़ने के जज्बा भरने इसके साथ ही उनके सही मार्गदर्शन और देश के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए लिए भारतीय सरकार ने राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) मनाने का फैसला लिया था।

इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि भारत के युग पुरुष स्वामी विवेकानंद जी के आदर्शों और उनके विचारों के महत्व को फैलाने और आज की युवा पीढ़ी में नई और सकारात्मक ऊर्जा का संचार करने और भारत को विकसित देश बनाए जाने के उद्देश्य से राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) हर साल 12 जनवरी को मनाया जाता है।

राष्ट्रीय युवा दिवस क्यों मनाया जाता है – Why do We Celebrate National Youth Day

उठो, जागो और तब तक मत रुको जब तक मंजिल प्राप्त न हो जाए’

का संदेश देने वाले युवाओं के प्रेरणास्त्रो‍त ‘स्वामी विवेकानंद के विचार, दर्शन और अध्यापन भारत की महान सांस्कृतिक और पारंपरिक संपत्ति हैं।

देश के भविष्य और उसकी उन्नति की बागडोर देश के युवाओं के हाथ में होती है, क्योंकि युवा देश के महत्वपूर्ण अंग होते हैं। वहीं आज के समाज में जहां हर तरफ भ्रष्टाचार फैला हुआ है, चोरी, मर्डर, और रेप जैसे जघन्य अपराध बढ़ रहे हैं। ऐसे में देश की युवा शक्ति को जागृत करना और उन्हें देश के प्रति कर्तव्यों का बोध कराना बेहद जरूरी है।

वहीं स्वामी विवेकानंद जी के आदर्शों और विचारों में वह शक्ति और तेज है, जो देश के युवाओं को चेतना से भर दे और उनमें नई ऊर्जा और सकारात्मकता का संचार करे। यही वजह है कि स्वामी विवेकानंद के जन्मदिवस को राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) के रुप में मनाया जाता है।

राष्ट्रीय युवा दिवस कैसे मनाया जाता है? – National Youth Day Celebration

राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) के दिन हर साल रामकृष्ण मिशन के केन्द्रों पर, रामकृष्ण मठ और उनकी कई शाखा केन्द्रों पर भारतीय संस्कृति और परंपरा के अनुसार राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) का जश्न मनाया जाता है। वहीं इसको लेकर युवाओं के लिए तमाम तरह के क्रार्यक्रमों का भी आयोजन किया जाता है, जिसके चलते युवाओं में इस दिन को लेकर खासा उत्साह रहता है।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय युवा दिवस (Yuva Diwas) के मौके पर स्कूल और कॉलेजों में खेल, सेमिनार, निबंध-लेखन, के लिये प्रतियोगिता, प्रस्तुतिकरण, योगासन, सम्मेलन, गायन, संगीत, व्याख्यान, स्वामी विवेकानंद पर भाषण, परेड समेत तमाम गतिविधियां आयोजित होती हैं।

इसके अलावा भारतीय युवाओं को प्रेरित करने के लिये इस मौके पर छात्रों द्दारा स्वामी विवेकानंद के विचारों से संबंधित व्याख्यान और लेखन भी किया जाता है। इस दिन को सरकारी, गैर-लाभकारी संगठन के साथ ही कॉरपोरेट समूह अपने-अपने तरीके से मनाते हैं। राष्ट्रीय युवा दिवस (National Youth Day) के कार्यक्रम की शुरुआत स्वामी विवेकानंद के उत्कृष्ट कामों को याद कर और उनकी प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर होती है।

स्वामी विवेकानंद जी का जीवन वाकई, हर किसी के लिए प्रेरणास्त्रोत है, जिन्होंने अपने आदर्शों और विचारों से सम्पूर्ण युवा जगत को नई राह दिखाई और उन्हें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। इसलिए हर किसी को उनके जीवन से सीख लेने की जरूरत है।

Loading...

Read More:

Note: For more articles like “National Youth Day In Hindi” & Also More New Article please Download: Gyanipandit free Android app.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.