भारत के केंद्र शासित प्रदेशों की जानकारी | Union Territories of India

Union Territories of India

भारत का विविधताओं का देश है ये हम सभी जानते है हालांकि राज्यों के आधार पर इस विविधता को बंटना आसान हो जाता है। मौजूदा समय में भारत में 29 राज्य (29 States of India ) और 7 केंद्र शासित प्रदेश राज्य (7 Union Territories of India ) है।

भारत के केंद्र शासित प्रदेशों की जानकारी – Union Territories of India

Union Territories of India
Union Territories of India

केंद्र शासित प्रदेश क्या हैं – What is Union Territory

राज्य का अर्थ क्या होता है ये सभी लोग जानते है साथ ही राज्यों की राजनीति को समझना भी थोड़ा आसान होता है भारत के सभी राज्यों में विधानसभा चुनाव होते है और अपनी राज्य सरकारे चुनी जाती है राज्य का एक मुख्यमंत्री होता है लेकिन केंद्र शासित प्रदेश के मामले में दिल्ली को छोड़कर सबकी कहानी राज्यों से अलग है।

केंद्र शासित प्रदेशों में केंद्र द्वारा नियुक्त किए प्रशासक या उपराज्यपाल द्वारा शासन किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते केंद्र शासित प्रेदश कैसे बने।

केंद्र शासित प्रदेशो इतिहास – History of Union Territories of India with Capital

केंद्र शासित प्रदेशों को आप एक अर्ध राज्य के रुप में भी समझ सकते है क्योंकि ऐसे राज्यों से अलग होते है लेकिन इन्हें पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं दिया जाता। मौजूदा समय में भारत में 7 केंद्र शासित प्रदेश (7 union territories ) है – चंडीगढ़, दमन दीव, दिल्ली, दादर और नागर हवेली, पंड्डुचेरी और अंडमान निकोबार द्वीप और लक्षद्वीप समूह

हालांकि 1972 में पूर्व के राज्य अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम को भी असम से अलग कर केंद्रशासित प्रदेश का दर्जा दिया गया लेकिन 1986 में इन्हें पूर्ण राज्यों का दर्जा प्राप्त हो गया। इसके अलावा गोवा भी पहले एक केंद्रशासित प्रदेश था जिसे साल 1987 में पूर्ण राज्य का दर्जा प्राप्त हुआ था।

क्यों मिला केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा – List of Union Territories of India and Their Capitals

हर क्षेत्र को केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा देने के पीछे अलग अलग कारण है जिसमें भौगलिक स्थिति, आकार, संस्कृति जैसे कारण शामिल है चलिए आपको बताते है 7 केंद्र शासित प्रदेशों के बारे में

  1. चंडीगढ़ – चंडीगढ़ हरियाणा के पंजाब से अलग होने से पहले केवल पंजाब की राजधानी थी चंडीगढ़ का राजनीति में एक प्रसानिक महत्व है जिसके साथ छेड़छाड़ न तो पंजाब करना चाहता है और ना ही हरियाणा। लेकिन दोनों ही राज्य इसे अपनी राजधानी बनाना चाहते थे जिस वजह से इसे पंजाब और हरियाणा की राजधानी के साथ केंद्र शासित प्रदेश भी घोषित कर दिया।
  2. दिल्ली – दिल्ली एक केंद्र शासित है लेकिन यहां पर संसद, उच्च न्यायालय राष्ट्रपति भवन सबकुछ है हालांकि दिल्ली की अपना मुख्यमंत्री और मंत्री परिषद है क्योंकि 1991 में दिल्ली को अद्ध राज्य का दर्जा दिया गया था।
  3. दमन दीव – दमन दीव गोवा के पास स्थित एक क्षेत्र है जिसपर पुर्तगालियों का शासन हुआ करता था। इसे साल 1961 में भारतीय सेना ने गोवा के साथ जीत लिया था। लेकिन गोवा तो पूर्ण राज्य का दर्जा मिल गया। लेकिन दमन दीव को केंद्र शासित प्रदेश ही माना जाता है।
  4. अंडमान निकोबार द्वीप – अंडमान निकोबार द्वीप केंद्र शासित प्रदेश इसलिए है क्योंकि यहां का क्षेत्रफल और जनसंख्या दोनों ही कम है और साथ ही राज्यों से दूर होने के कारण इस द्वीप का किसी राज्य में विलय नहीं किया जा सकता है।
  5. लक्षदद्वीप – लक्षद्दवीप समूह के साथ भी वही समस्या है जो अंडमान निकोबार के साथ भी है इसका विलय भी किसी राज्य में नहीं हो सकता, क्योंकि ये द्वीप काफी दूर है।
  6. दादर नागर हवेली – दादर नागर हवेली पर पहले मराठाओँ और उसके बाद पुर्गालियों का राज रहा। 11 अगस्त 1961 में एक दिन के लिए आईएएस अधिकारी केजी बदलानी को प्रधानमंत्री बनाया गया था। ताकि इसका भारत में विलय किया जा सके।
  7. पंडुचचेरी – वहीं अगर बात करें पंडुचचेरी की तो पंडुचेरी में फ्रांस का राज हुआ करता था जिस वजह से यहां कि संस्कृति दक्षिण भारत की संस्कृति से बिल्कुल अलग है जिस वजह से इसका ना तो किसी राज्य में विलय हो सकता है और कम आबादी के कारण पूर्ण राज्य भी नहीं मिल सकता है। हालांकि पुडुचेरी के पास दिल्ली की ही तरह अपना मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल है साथ ही केंद्र द्वार उपराज्यपाल की नियुक्ति भी यहां की जाती है।

Read More:

  1. Interesting Facts about India
  2. History of India
  3. Essay on India
  4. Historical places in India
  5. Forts in India

I hope these “Union Territories of India In Hindi” will like you. If you like these “7 Union Territories Information In Hindi with History” then please like our facebook page & share on whatsapp. and for latest update download: Gyani Pandit free android App

Loading...

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.