Skip to content

भारतीय ग़ज़ल गायक जगजीत सिंह | Jagjit Singh Biography

“गजल किंग” के नाम से प्रसिद्ध Jagjit Singh– जगजीत सिंह उर्फ़ जगमोहन सिंह प्रसिद्ध भारतीय ग़ज़ल गायक, गीतकार और संगीतकार थे।

Jagjit Singh
भारतीय ग़ज़ल गायक जगजीत सिंह – Jagjit Singh Biography

जगजीत सिंह का जन्म 8 फ़रवरी 1941 को श्री गंगानगर, राजस्थान, भारत में हुआ। उनके पिता सरदार अमर सिंह धीमन सरकारी सामाजिक कार्य विभाग के सर्वेक्षक थे।

शुरू में खालसा हाई स्कूल और सरकारी कॉलेज से शिक्षा प्राप्त करने के बाद जालंधर के DAV कॉलेज से उन्होंने डिग्री प्राप्त की।

जगजीत सिंह का करियर – Jagjit Singh Career

बाद में 1661 से उनके पेशेवर करियर की शुरुवात हुई और ऑल इंडिया रेडियो के जालंधर स्टेशन में वे गायन और गीतों के निर्माण का काम करते थे। बाद में हरियाणा की कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से इतिहास में उन्होंने पोस्ट-ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त की।

इस समय उनके प्राकृतिक हुनर और गुणों को उनके पिता ने पहचाना और इंडियन क्लासिक म्यूजिक के मास्टर पंडित छगनलाल शर्मा और बाद में सेनिया घराना के उस्ताद जमाल खान से उन्होंने संगीत का ज्ञात प्राप्त किया। इन दोनों के नेतृत्व में जगजीत सिंह ने हिन्दुस्तानी क्लासिकल संगीत के मुख्य रसों को जाना, जैसे खयाल, ध्रुपद, ठुमरी और इत्यादि।

युवावस्था में वे स्टेज प्रदर्शन करते और संगीत की रचना करते थे। सरकारी कर्मचारी होते हुए उनके पिता को आशा थी की वे इंजिनियर बनेंगे। जबकि उन्होंने सिंह के हुनर की प्रशंसा की और सिंह अपने भाई-बहनों को भी संगीत सिखाते थे।

मार्च 1965 में और अपने परिवार को बताये बिना ही सिंह बॉम्बे चले गये, जहाँ बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में म्यूजिक आर्टिस्ट के काफी अवसर उन्हें मिले। शुरू में विज्ञापनों के लिए जिंगल्स लिखकर और बाद में प्लेबैक सिंगर के रूप में वे कार्यरत रहे।

बाद में सुरेश अमिन के गुजराती प्रोडक्शन में बनी फिल्म ‘धरती ना चूरू’ में उन्होंने अभिनय भी किया, जो उनकी पहली फिल्म थी।

1976 में ‘दी अनफॉरगेटेबल’ के नाम से अपनी पत्नी चित्रा के साथ उन्होंने पहला सफल एल्बम रिलीज़ किया।

बाद में इस जोड़ी ने लगातार बहुत से एल्बम जैसे ‘बिरहा दा सुल्तान (1978)’ और ‘कम अलाइव इन ए कंसोर्ट (1979)’ रिकॉर्ड किये। बाद के वर्षो में उन्होंने बहुत से सफल एल्बम जैसे ‘ए साउंड अफेयर (1985)’ और ‘पैशन (1987)’ रिलीज़ किये।

उनके बाद के व्यक्तिगत एल्बम में ‘होप (1991)’, ‘इन सर्च (1992)’, ‘विज़न (1992)’, ‘मिराज (1995)’ और ‘लव इज ब्लाइंड (1998)’ शामिल है, जिन्हें भरपूर सफलता मिली। गजल के अलावा उन्होंने बहुत से भक्ति गीत एल्बम जैसे ‘मन जीते जगजीत (1990)’, ‘माँ (1993)’, ‘हरे राम हरे कृष्णा (1999)’ भी गाये।

उन्होंने बहुत से मधुर बॉलीवुड फिल्म गीत जैसे ‘होंठो से छू लो तुम’, ‘झुंकी-झुंकी सी नजर’, ‘तुम इतना हो मुस्कुरा रहे हो’, ‘तुम को देखा तो ये ख्याल आया’, ‘दिन आ गये शबाब के’ ‘होश वालो को’, ‘किसका चेहरा अब मै देखू’, ‘बड़ी नाजुक है’ इत्यादि गीत भी गाये है।

उनके कुछ अंतिम एल्बम में ‘आईना (2000)’, ‘सोज़ (2001)’, ‘फॉरेवर (2002)’, ‘चाहत (2004)’, ‘मोक्ष (2005)’, ‘आवाज (2007)’, ‘जज़्बात (2008)’ और ‘इन्तहा (2009)’ शामिल है।

जगजीत सिंह का निधन – Jagjit Singh Death

गजल के बादशाह कहे जानेवाले जगजीत सिंह का ब्रेन हैमरेज होने के कारण 10 अक्टूबर 2011 को मुंबई में निधन हो गया।

जगजीत सिंह को मिले हुए पुरस्कार सम्मान – Jagjit Singh Award
  • 1998 जगजीत सिंह को साहित्य में किये अतुलनीय कार्य के लिए साहित्य अकादमी अवार्ड से नवाजा गया। उन्हें यह अवार्ड मिर्ज़ा ग़ालिब के कार्यो को प्रसिद्ध बनाने के लिए दिया गया था।
  • संगीत नाटक अकादमी अवार्ड
  • साहित्य कला अकादमी अवार्ड, राजस्थान सरकार – 1998
  • 1998 में मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लता मंगेशकर सम्मान देकर सम्मानित किया गया।
  • 1999 में दयावती मोदी अवार्ड से सम्मानित किया गया।
  • डी.लिट्, कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी, हरियाणा – 2003
  • 2003 में सिंह को भारत सरकार द्वारा भारत के तीसरे सर्वोच्च अवार्ड पद्म भूषण से सम्मानित किया गया।
  • 2005 में दिल्ली सरकार द्वारा ग़ालिब अकादमी से सम्मानित किया गया।
  • 2006 में टीचर्स लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड दिया गया। आठवा टीचर्स अचीवमेंट अवार्ड।
  • 2012 में राजस्थान राज्य सरकार ने जगजीत सिंह को राज्य के सर्वोच्च अवार्ड, दी राजस्थान रत्न से सम्मानित किया।
  • गूगल इंडिया ने 8 फरवरी 2013 को जगजीत सिंह के 72 वे जन्मदिन पर उन्हें सम्मान देते हुए गूगल डूडल रखा था।

Read More:

  1. ए.आर रहमान की जीवनी
  2. “सुरों का बादशाह” सोनू निगम
  3. Yo Yo Honey Singh
  4. महान गायक मोहम्मद रफ़ी
  5. Udit Narayan biography

Note: You have more information about Jagjit Singh in Hindi, or if the information given is anything wrong, then we will keep updating this as soon as we wrote a comment and email.

I hope these “Jagjit Singh biography in Hindi” will like you If you like these “Jagjit Singh information in Hindi” then please like our facebook page & share on whatsapp.

4 thoughts on “भारतीय ग़ज़ल गायक जगजीत सिंह | Jagjit Singh Biography”

    1. Faisal ekbalji apne jagjit singji ki jivani padhi uske liye ham apko sarahana karte hai. Agar aapko isi tarh ki mahan aur mashhur gajal gayak ki jankari chahiye to aap hamari website par padh sakte ho.

  1. बहुत अच्छा लेख है भारतीय ग़ज़ल गायक जगजीत सिंह जी के बारे में अच्छी जानकारी दी है।

    1. शुक्रिया इस लेख को पढ़ने के लिए,जगजीत सिंह वाकई एक अच्छे गजल गायक थे जिन्होंने अपने गजलों से लाखों दिलों में अपने लिए जगह बनाई और भारत को गौरान्वित किया। इसके लिए उन्हें कई अवॉर्ड से भी नवाजा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.