Skip to content

नेपाल के इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाए और जानकारी

Nepal History in Hindi

देवताओं का घर कहे जाने वाले नेपाल विविधाताओं से पूर्ण है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जहां एक ओर यहां बर्फ से ढ़कीं पहाड़ियां हैं, वहीं दूसरी ओर तीर्थस्थान है। आज हम इस नेपाल के बारेमें विस्तार से जानकारी – Nepal Information आपके लिये लेकर आये हैं ।
 

नेपाल के इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाए और जानकारी | Nepal History in Hindi

Nepal History in Hindi

 

नेपाल के बारे मे संक्षेप मे जानकारी – Nepal Information

देश का नाम (Name of Country)नेपाल।
नेपाल की राजधानी (Capital of Nepal)काठमांडू।
देश के कुल राज्य (Total Number of States in Nepal)सात।
देश मे मौजूद कुल जिलो संख्या (Total Districts in Nepal)७७
कुल क्षेत्रफल (Total Area of Nepal)१४७,५१६ किलोमीटर वर्ग।
देश की कुल जनसंख्या(Population of Nepal)२ करोड ८६ लाख।
प्रमुख भाषाएँ (Languages in Nepal)नेपाली, तमंग, मैथिली, भोजपुरी, अवधी, सुनवर इत्यादि।
प्रमुख नृत्य (Dance of Nepal)मरुनी नृत्य, सोरथी, देवी नृत्य, घाटू, देऊदा नाच, चंडी नाच, लाखेय नृत्य इत्यादि।
देश का राष्ट्रीय पक्षी (National Bird of Nepal)हिमालयन मोनल।
राष्ट्रीय प्राणी(National Animal of Nepal) गाय।
राष्ट्रीय पेड(वृक्ष) (National Tree of Nepal) पाईन वृक्ष।
देश का राष्ट्रीय फुल (पुष्प) (National Flower of Nepal) रोडोडेंड्रॉन पुष्प
राष्ट्रीय फल (National Fruit of Nepal)सुनहरा हिमालयन बेरी फल।
देश मे मौजूद कुल नदियाँ (Total Number of Rivers in Nepal)लगभग ६०००
राष्ट्रीय खेल (National Game of Nepal)वॉलीबॉल।

नेपाल की ऐतिहासिक और भौगोलिक पृष्ठभूमि – Nepal ki Jankari

नेपाल, अधिकारिक रूप से नेपाल संघीय लोकतांत्रिक गणराज्य दक्षिण एशिया का 26.4 मिलियन जनसँख्या वाला बंदरगाह विहीन देश है। यह एक बहुजातीय देश है, जिसकी अधिकारिक राष्ट्रिय भाषा नेपाली है।

नेपाल की राजधानी काठमांडू है और साथ ही यह नेपाल का सबसे बड़ा शहर भी है। आधुनिक नेपाल धर्म निरपेक्ष संसदीय गणराज्य है।

नेपाल के उत्तर में चाइना की बॉर्डर और दक्षिण, पूर्व और पश्चिम में भारत की बॉर्डर है। कम भारतीय गलियारे और भारतीय राज्य सिक्किम की वजह से नेपाल में ना ही बांग्लादेश की बॉर्डर है और ना ही भूटान की।

नेपाल हिमालय में बसा हुआ है और दुनिया के 10 सबसे ऊँचे पर्वतो का घर है, जिनमे माउंट एवरेस्ट भी शामिल है। इसका दक्षिणी मधेश भाग उपजाऊ है और नम है।

147181 वर्ग किलोमीटर में बसा यह देश क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया का 93 वा सबसे बड़ा देश है और जनसंख्या के हिसाब से दुनिया का 41 वा सबसे बड़ा देश है।

नेपाल में विविध प्राचीन संस्क्रुतिक विरासत है। वैदिक काल के रिकॉर्ड से ही नेपाल शब्द को लिया गया है। नेपाल में ही अंतिम हिन्दू साम्राज्य था। बुद्ध धर्म के संस्थापक सिद्धार्थ गौतम का जन्म भी दक्षिणी नेपाल के लुंबिनी में हुआ था।

देश के मुख्य अल्पसंख्यको में तिब्बतन बुद्धिस्ट, मुस्लिम, किरातंस और क्रिस्चियन लोगो का समावेश है। नेपाली लोगो को गुरखा के नाम से भी जाना जाता है। प्रथम विश्व युद्ध और द्वितीय विश्व युद्ध में वे अपनी वीरता के लिए जाने जाते है।

इसकी स्थापना 18 वी शताब्दी में की गयी, नेपाल के प्राचीन आधुनिक किंगडम का नेतृत्व शाह साम्राज्य ने किया था। नेपाल उन एशियाई देशो में से एक है जो कभी उपनिवेश नही हुआ।

एंग्लो-नेपाली युद्ध और 1816 में सुगौली की संधि के बाद, नेपाल ब्रिटिश साम्राज्य का मित्र बन गया था। 1951 से 1960 में जब राजा महेंद्र ने पंचायत प्रणाली को अधिनियमित किया था, तब नेपाल में बहुपार्टी लोकतंत्र को विकसित किया गया।

1990 में, संसदीय सरकार को राजा बिरेन्द्र ने बहाल कर दिया। तक़रीबन एक दशक तक नेपाल को कम्युनिस्ट माओवादी उग्रवाद का सामना करना पड़ा था, जिसके चलते 2008 में राजशाही की भी समाप्ति की गयी। नेपाल की दूसरी वैधानिक असेंबली ने 2015 में नये संविधान को प्रख्यापित किया था।

वर्तमान में, नेपाल की मुख्य राजनीतिक पार्टी कम्युनिस्ट, सोशल डेमोक्रेट्स और हिन्दू राष्ट्रवादी है।

नेपाल सरकार ने सात संघीय प्रांतो में लोकतंत्र के प्रतिनिधित्व का ढाँचा बनाने का भी काम किया है। नेपाल एकल विकसनशील देश है, 2014 के ह्यूमन डेवलपमेंट इंडेक्स में नेपाल का स्थान 145 वे पायदान पर है।

साम्राज्य से गणतंत्र में परिवर्तित होने के लिए नेपाल को कड़ा संघर्ष करना पड़ रहा था। इन चुनौतियों के बावजूद, नेपाल ने सराहनीय विकास किया और सरकार ने भी सन 2022 तक नेपाल को कम विकसित देशो से हटाकर विकसित देशो में शामिल करने का दावा किया है।

नेपाल की भारत और यूनाइटेड किंगडम के साथ अच्छी दोस्ती है। साथ ही यह SAARC का संस्थापक सदस्य भी है। साथ ही यह देश यूनाइटेड नेशन और BIMSTEC का भी सदस्य है। नेपाल की गिनती भी दुनिया के महत्वपूर्ण देशो में की जाती है।

नेपाल देश के प्रमुख जनजातीय समुदाय – Tribes of Nepal

इस देश का अधिकतर हिस्सा प्राकृतिक सुंदरता और हिमालय के पर्वत श्रेणीयो के अंतर्गत बसा होने के कारण शुरू से ही देश मे विभिन्न जनजातीय विशेष का अधिवास रहा है।

नेपाल की ऐतिहासिक और सामाजिक पृष्ठभूमी को देखे तो यहाँ के आम जीवन पर इन सभी जनजातीयो का विशेष प्रभाव दिखाई देता है।

आम तौर पर नेपाल मे मगर, थारू, खास छेत्री, तमंग, कामी, नेवार, लिम्बू, गुरुंग, मल्लाहा, केवट, कुर्मी, धनुक, कानू, सरकी, बराई, माझी, राई इत्यादि जनजातीया देखने को मिलती है।

नेपाल की भाषाएँ – Languages in Nepal

जैसा के हम आपको पहले ही बता चुके है के नेपाल मे विभिन्न जनजातीय समुदाय का अधिवास है, इसके वजह से इनमे से अधिकतर जनजातीयो की खुद्की अपनी स्वतंत्र भाषा होती है।

वैसे तो नेपाल मे प्रमुखता से आम बोलीचाली मे इस्तेमाल की जानेवाली भाषा नेपाली है, जिसे राष्ट्रभाषा और आधिकारिक भाषा का स्थान प्राप्त है।

बात करे नेपाल मे प्रयोग की जानेवाली अन्य भाषाओ की तो देश मे मैथिली, तमंग, थारू, भोजपुरी, बज्जिका, अवधी, उर्दू, दोतेली, मगर, उर्दू, सुनवर आदि भाषाओ को अधिकतर बार उपयोग मे लाया जाता है।

नेपाल के लोगो का प्रमुख भोजन – Staple Food in Nepal

माना जाता है के नेपाल का भोजन काफी स्वादिष्ट और हलका होता है, जो पाचनव्यवस्था के लिए भी काफी बेहतर होता है। अगर आपको नेपाल जाने का मौका मिलता है तो वहाँ के खानपान से परिचय होना आवश्यक बन जाता है। इसी बात को ध्यान मे रखते हुए, निचे हमने आपको नेपाल मे प्रमुखता से भोजन मे शामिल होनेवाले व्यंजनो का ब्यौरा दिया है, जो के इस प्रकार से है –

  • क्वाटी
  • चोईला
  • सेल रोटी
  • गुंद्रूक
  • योमारी
  • सेकुवा
  • सुकुती
  • दाल भात
  • बाजी
  • मोमो

नेपाल देश की संस्कृती और सामाजिक परिवेश – Culture and Social Background in Nepal

एशिया महाद्वीप मे मौजूद प्राचीन देशो की सूची मे चीन, भारत की तरह नेपाल का भी स्थान लगता है, हिमालय पर्वत श्रेणी तथा प्राकृतिक सुंदरता से घिरे हए इस देश का सामाजिक परिवेश काफी शांतीपूर्ण और अध्यात्मिक है।

नेपाल मे मौजूद प्रमुख धर्मो मे हिंदू, बौध्द, मुस्लीम, किरांत तथा इसाई धर्म का पालन करनेवाले लोग शामिल है, यहाँ पर अन्य धर्मो की तुलना मे हिंदू धर्म को माननेवाले लोगो की संख्या देश मे सर्वाधिक है।

प्राचीन काल से चली आई सनातन हिंदू धर्म की मान्यताओ का प्रभाव नेपाल मे अधिकता से देखने को मिलता है, इसी तरह गौतम बुध्द के जीवन से संबंधित लुंबिनी स्थान भी नेपाल मे मौजूद होने के कारण बौध्द धर्म को माननेवाले लोग का अधिवास भी यहाँ अच्छा खासा देखने को मिलता है।

देश मे मौजूद कुल ७ राज्य और ७७ जिलो के अंतर्गत विभिन्न जनजाती विशेष लोगों का अधिवास मौजूद है, जिसके वजह से इन सभी लोगो की धार्मिक आस्थाए और मान्यताए, भाषा, जीवन पद्धती, त्यौहार, नृत्य, कला, संगीत, रिवाज आदि का प्रभाव विशेष रूप से नेपाल के सामान्य जीवन शैली और सामाजिक परिवेश पर हुआ है।

वैसे तो अधिकतर बार आपको देश मे हिंदू धर्म के अनुसार धर्मिक क्रियाकलाप देखने को मिल जाएंगे जिसमे त्यौहार आदि शामिल होते है, इसके अलावा अन्य ख़ुशी के मौके जैसे शादी, नामकरण, जन्मदिन आदि को भी इसी के अनुसार संपन्न किया जाता है। पर विशेष जनजातीयो के स्वतंत्र जीवन पद्धती और मान्यताओ की वजह से यहाँ पर कुछ हद तक मिश्र संस्कृती और सामाजिक जीवन के दर्शन हो जाते है।

इस देश ने सभी धर्मो को धार्मिक स्वतंत्रता और सामाजिक अधिकार दिए है, जिसका कुल परिणाम ये हुआ के धार्मिक सौहार्द के साथ शांती तथा प्रगती के मार्ग पर अग्रेसर नेपाल आज हमे देखने को मिलता है।

नेपाल मे कुल ४० जनजातीया मौजूद है तथा १० से भी अधिक भाषाओ को आम तौर बोली चाली मे इस्तेमाल किया जाता है, जिसमे नेपाली भाषा प्रमुख आधिकारिक भाषा है।

शुरू से लेकर अबतक इस देश मे राजघरानो का प्रभाव मौजूद है, जिसमे कुछ प्रमुख मौको पर इस परिवार से जुडे व्यक्तियो को प्रमुख स्थान और आदर दिया जाता है।

कुल मिलाकर नेपाल एशिया महाद्वीप का वो देश है जो सभी प्रमुख अंगो से संपन्न और खुशहाल देश है, जिसका ना केवल सामाजिक परिवेश बल्की संस्कृती भी अन्य देशो के लिए मिसाल के रूप मे उभर कर आती है।

नेपाल के प्रमुख त्यौहार – Main Festivals of Nepal

यहाँ हम आपको नेपाल देश मे सालभर मे मनाए जानेवाले धार्मिक, राष्ट्रीय तथा सामाजिक त्यौहारो का ब्यौरा देंगे, जो के निम्नलिखित तौर पर है;

नेपाल के पवित्र धार्मिक स्थल – Holy Religious Places in Nepal

Religious Places of Nepal

Religious Places of Nepal

नेपाल देश मे आध्यात्मिकता का काफी प्रभाव दिखाई पडता है, जहाँ पर कुछ प्रमुख पवित्र धार्मिक स्थल भी मौजूद है जिसकी जानकारी निचे सूचीगत तौर पर दी गई है, जो के इस प्रकार से हैं –

  1. लुम्बिनी (गौतम बुध्द का जन्मस्थल)
  2. पशुपतीनाथ मंदिर
  3. जानकी मंदिर
  4. मुक्तीनाथ
  5. स्वयंभु नाथ
  6. चंगूनारायण
  7. गोसाई कुंड
  8. मनकामना मंदिर
  9. भोलेश्वर महादेव मंदिर
  10. बुधानीलकंठ
  11. बौध्दनाथ स्तूप
  12. कागबेनी मोनेस्ट्री

नेपाल मे मौजूद खुबसुरत पर्यटन स्थल – Beautiful Tourism Places in Nepal

Tourism Places in Nepal

Tourism Places in Nepal

नेपाल को प्राकृतिक सुंदरता का अनमोल उपहार प्राप्त हुआ है जिसके अंतर्गत विभिन्न सुंदर और मनमोहक पर्यटन स्थल नेपाल मे आपको मिल जाते है, ऐसेही कुछ स्थलो का विवरण निचे दिया गया है, जैसे के –

  1. मनास्लु
  2. एवेरेस्ट बेस कॅम्प
  3. इम्जा त्से
  4. मर्दी हिमाल
  5. गोकयो लेक
  6. लोबुचे
  7. रारा लेक
  8. तिलीचो लेक
  9. फेवा लेक
  10. काला पत्थर
  11. डेविल्स फॉल्स पोखरा
  12. बरुंत्से
  13. थोरोंग ला
  14. गोकयो री
  15. सुन्कोशी
  16. पंच पोखरी
  17. इंटरनेशनल माउंटेन म्यूजियम
  18. गुप्तेश्वर महादेव केव, इत्यादि..

इस प्रकार से अबतक आपने नेपाल देश के बारे मे विभिन्न पह्लुओ पर जानकारी को जाना, आशा करते है के दी गई जानकारी आपको काफी पसंद आयी होगी। अन्य लोगो तक इस जानकारी को पहुचाने हेतू लेख को अवश्य शेयर करे, हमसे जुडे रहने हेतू बहुत बहुत धन्यवाद..

नेपाल के बारे मे अधिकतर बार पुछे जाने वाले सवाल – Quiz on Nepal

Q. कुल कितने हवाई अड्डे नेपाल देश मे मौजूद है? (How Many Airports in Nepal)

जवा: लगभग ४३।

Q. नेपाल देश मे पर्यटन हेतू घुमने जाना हो तो कौनसा समय सबसे उचित होता है? (Best time to visit Nepal?)

जवाब: अक्टूबर माह से लेकर दिसंबर माह तक का समय पर्यटन हेतू सबसे उचित समय होता है।

Q. नेपाल के इतिहास से जुडी कौनसी किताबो द्वारा हमे इस देश के बारे मे जानकारी प्राप्त होती है? (History books of Nepal?)

जवाब: हिस्टोरिकल डिक्शनरी ऑफ़ नेपाल, अ हिस्ट्री ऑफ़ नेपाल, बैटल्स ऑफ़ द न्यू रिपब्लिक- अ कंटेम्पररी हिस्ट्री ऑफ़ नेपाल, हिस्ट्री ऑफ नेपाल, द बुलेट एंड द बैलट बॉक्स – द स्टोरी ऑफ़ नेपाल मॉइस्ट रेवोलुशन, द नेपाल नेक्सस, सोशल हिस्ट्री ऑफ़ नेपाल, लेटर्स फ्रॉम काठमांडू, अरेस्टिंग गॉड इन काठमांडू, द रॉयल घोस्ट इत्यादि।

Q. कौनसे सुंदर शहर/स्थल नेपाल देश मे मौजूद है? (Most Beautiful Place in Nepal?)

जवाब: जनकपुर, बंदीपूर, ललितपुर, भक्तपूर, घोडे पानी, धुलीखेल, काठमांडू इत्यादि।

Q. नेपाल देश मे कौनसे प्रमुख शिक्षा संस्थान/युनिवर्सिटी मौजूद है? (Universities of Nepal?)

जवाब: काठमांडू युनिवर्सिटी, सुदूर पश्चिम विश्वविद्यालय, त्रिभुवन युनिवर्सिटी, पुर्बांचल युनिवर्सिटी, लुम्बिनी बुद्धिस्ट युनिवर्सिटी, नेपाल ओपन युनिवर्सिटी, नेपाल संस्कृत युनिवर्सिटी, द ब्रिटीश कॉलेज काठमांडू, काठमांडू मेडिकल कॉलेज, बी.पी कोईराला इन्स्टिट्यूट ऑफ हेल्थ सायन्स, पाटन स्वास्थ्य विज्ञान प्रतिष्ठान, थेम्स आंतरराष्ट्रीय कॉलेज इत्यादि।

Q. नेपाल देश विश्वभर मे क्यो प्रसिध्द है? (Nepal is Famous for?)

जवाब: नेपाल का भौगोलिक स्थान प्राकृतिक सुंदरता से पूर्ण है जिसमे चहू ओर हिमालय की पर्वत श्रेणी है। इस देश की अधिकतर सीमाए बर्फीले प्रदेश से व्याप्त होने के कारन यहाँ का वातावरण काफी थंडा होता है। देश के अंतर्गत इलाको मे उचित मात्रा मे पेड पौधे मौजूद होने से प्राकृतिक वातावरण सालभर काफी खुशनुमा होता है, इसके साथ नदियो और तालाबो की संख्या भी देश मे अधिक होने से पर्यटन का विकास पर्याप्त मात्रा मे यहाँ पर हुआ है। हिंदू धर्म के लोगो की संख्या देश मे अधिक होने के साथ पवित्र पशुपतीनाथ मंदिर नेपाल मे मौजूद है, जिस से सालभर श्रद्धालु लोगो का नेपाल मे आना जाना लगा रहता है। बात करे नेपाल के ऐतेहासिक पृष्ठभूमी की तो नेपाल मे भगवान गौतम बुध्द का जन्मस्थल लुम्बिनी मौजूद है इस वजह से बौध्द धर्मियो के आस्था का केंद्र भी नेपाल बन गया है। साथ ही प्राचीनकाल मे रामायण के अनुसार माता सीता/जानकी माता का मायका जनकपुर था जो के नेपाल मे मौजूद है, इस वजह से भी नेपाल को हिंदू धर्म मे काफी महत्व प्राप्त है। कुल मिलाकर प्राकृतिक सुंदरता, पर्यटन हेतू पर्याप्त स्थल, खुशनुमा वातावरण तथा धार्मिक ऐतेहासिक स्थल आदि वजह से नेपाल को दुनियाभर मे काफी ज्यादा प्रसिद्धी मिली है।

2 thoughts on “नेपाल के इतिहास की महत्वपूर्ण घटनाए और जानकारी”

  1. Nepal ki jankari padhakar achcha laga, mujhe nepal ki currency ke baremen janana tha, aur sath me hi vaha ke paryatan ke baremen janana tha. please aap apne es lekh me ye janakri update karen.

Leave a Reply

Your email address will not be published.