टाईम मैनेजमेंट | Time Management in Hindi

Time Management

Time Management in Hindi

टाईम मैनेजमेंट / Time Management in Hindi

बड़ा विचित्र लगता है जब हम Time बारे में सोचते है, लेकीन जब हम समय को जीते है तब बहुत सरल-सा लगता है। पर समय से अधिक शक्तिशाली कोई भी नहीं। और इसके उपर किसी का नियंत्रण नहीं होता अगर होता तो भगवान कृष्ण के होते हुये भी महाभारत क्यु होता ? और तो सुबह राज सिंहासन पर बैठने वाले भगवान श्रीराम उसी समय चौदह वर्ष के वनवास के लिये क्यों निकल पडे ? समय के कारण ही।

कभी-कभी तो यह भी लगता है की कहीं ऐसा तो नहीं की संसार के रचयिता ने स्वयं ही अपने से भी एक बडी शक्ति की रचना की, ताकी उसकी प्रभूता पर, शक्ती पर  एक नियंत्रण बना रहे और यही सर्वोच्च शक्ति है – समय।

समय की गती एक समान होती है यह पहले से लेकर अंत तक एक ही गती से चलता रहता है। भगवान ने सभी को दिन के 24 घंटे दिये है। किसी को कम या ना किसी को ज्यादा फिर वो चाहे गरिब हो या अमीर। लेकीन अब इस 24 घंटे का उपयोग कौन किस तरह करता है ये उसपर निर्भर करता है। वैसे ही ‘ठिक समय पर किया हुआ थोडा-सा कार्य बहुत लाभदायक होता है और समय बीतने के बाद किया महान कार्य भी व्यर्थ हो जाता है’।

अगर आपको किसी काम के लिये कहा जाये तो आपका रवैया यह होना चाहिये की आप उसे समय पर करे। काम तो आप वैसे ही करेंगे हा पर समय पर करना बहोत महत्वपूर्ण है। क्योंकि वो काम आपके सर्वोच्च प्राथमिकता पर है. तो आइये, हम कुछ समय कुछ Time Management के साथ गुजरे। और कुछ Time Management skills के 4 Best Technique के बारे मै जाने।

काम का वितरण चार प्रकार में किया जा सकता है।

  1. Important और Urgent वाले कार्य।
  2. Important पर कम Urgent वाले कार्य।
  3. Important पर Urgent वाले कार्य।
  4. कम Important और कम Urgent वाले कार्य।

पढ़े समय पर सुविचार: Quotes On Time Management

1) Urgent और Important काम

Urgent और Important काम जल्दी करने चाहिये। इसमे बहोत से काम हम समय नहीं करने के वजह से urgent और important बने होते है। जैसे इलेक्ट्रीक का बिल, Income Tax की तारिख इसकी योजना बनाकर हम तय करके ये काम हम दिये गये समय में पूरा कर सकते है। हमने अगर Rule के अनुसार कार्यक्रम लिख के नहीं रखा तो ये नंबर एक वाली लिस्ट बढ़ती ही जायेंगी। इस लिस्ट में कम से कम काम होने चाहिये इसका पूरी तरह से ध्यान रखना होगा।

Important और Urgent काम की लिस्ट छोटी होनी चाहिये। दुसरे ग्रुप की काम अगर समय पे नहीं हुये तो वो पहले ग्रुप में आते है।

अगर काम समय पे नहीं की तो वो बड़ी बड़ी हो जाती है। उसका अगर बड़ी समस्या  में रूपांतर हुवा तो हम उसके बोझ के निचे दब सकते है। फिर वो काम पूरा करने के लिये ज्यादा मेहनत से काम में लगते है, वो काम पूरा करते है। और वो काम खतम नहीं  होता तो जल्द ही दूसरा नया काम सामने खड़ा हो जाता है।

2) Important लेकीन कम Urgent वाली काम

इस ग्रुप के काम Urgent नहीं होते लेकिन वी Important होते है। हमारे जीवन में उद्दिष्ट तय होंगा, हमारे जीवन में क्या Important है। अगर ये पता होगा और हमें जीवन में क्या करना है इसकी निश्चित दिशा होंगी तो हम ये important और कम urgent काम करने में ज्यादा ध्यान देते है। इसमे के काम कभी कभी धयान न देने के वजह से Urgent हो सकते है।

3) Urgent लेकिन कम Important

ये काम हमपर आक्रमण करते रहते है। वो काम करने में लोग हम मजबुर करते है। वो काम किये तो बाकी के लोगों को खुशी  मिलती है। हम लोगों के लिये वो काम कर रहे होंगे तो लोकप्रिय होते है। वो काम हमारे सामने एकदम से खड़े होते है। लेकीन हमारे लिये वो कम Important होती है।

Urgent और कम Important ये काम बहोत आसान होते है, वो काम करने के लिये हमें मजा आता है। जैसे – रास्ते पर हमें हमारे समाज का कोई इन्सान मिलता है, वही समाज की मिटींग के लिये आमंत्रण देता है। ये उसके लिये Important होता है लेकीन हमें Important नहीं होता।

4) कम urgent कम Important

एक दोन घंटे हररोझ पेपर पढ़ने में बिताना, T.V. पर सीरियल देखना चौक में बैठके दोस्तों के साथ गप्पे मारना, ये काम मतलब कम Urgent और कम Important होते है।

बहोत से लोग urgent और Important कामो के निचे दबकर, थक जाते है और उनके सामने सिर्फ एक ही रास्ता बचता है। वो मतलब कम Important और कम Urgent काम करना मतलब ग्रुप चार के काम करना। उस वजह से बहोत से लोगों का 90% समय ये Urgent और Important काम करने ही जाता है।

हमारे जीवन में हमें क्या Important है ये अगर हमने तय कर लिया तो  हम आसानी से खुशी से हसते रह सकते है, माफ़ी मांगे बिना ही हम इतर कम Important काम के लिये इन्कार कर सकते है। अगर हमारे मन एक बड़ा हाँ (ध्येय) छुवा होंगा बाकी की चिजे हमारे आगे मायने नहीं रखती। जीवन के ध्येय अगर तय होंगे तो हमारे मन के खिलाफ दिये  गर्थे कामो को नहीं कहने की ताकद बढ़ती है।

प्रभावी और सफल लोग ग्रुप तीन और चार के कामो से खुद को दुर रखते है क्योंकि वो काम urgent हो या ना हो वो important नहीं होती।

हमारे जीवन का  ध्येय तय करके उस दृष्टी से Available हुये हर एक सेंकद का Use करने वाला इन्सान अपने जीवन में सफल होता है, ये Available सेंकद का use करके, हर एक पल में खुशी पाकर हमारे जीवन का उद्देश पूरा करने के लिये शुभकामनाएं!

समय का महत्व: Importance Of Time Management

Best articles for you:

Note: अगर आपको Time Management in Hindi अच्छी लगे तो जरुर Share कीजिये।
Note: E-MAIL Subscription करे और पायें How To Time Management in Hindi articles for students और Essay आपके ईमेल पर। Search Term: Time management for students, Time management tips in Hindi, Time management tips, Project time management, Time management skills in Hindi.

3 COMMENTS

  1. मेरे जीवन में यह लेख महत्वपूर्ण सिद्ध होगा , धन्यवाद!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.